Online Portal Download Mobile App हिंदी ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

WHO क्षेत्रीय समिति की 72वीं बैठक

3rd September 2019

समाचार में क्यों?    हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने नई दिल्ली में दक्षिण-पूर्व एशिया के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन की क्षेत्रीय समिति की 72वीं बैठक ¼72nd Session of the WHO Regional Committee for South-East Asia½ का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्यः

  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन को दक्षिण-पूर्व एशिया के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन की क्षेत्रीय समिति की 72वीं बैठक का सर्वसम्मति से अध्यक्ष चुना गया।
  • यह दूसरा मौका है जब भारत क्षेत्रीय समिति की बैठक का आयोजन कर रहा है।
  • स्वास्थ्य मंत्री के अनुसार, सभी के लिये सार्वभौमिक स्वास्थ्य, रोगमुक्त भारत तथा स्वास्थ्य सेवा में उत्कृष्टता का वैश्विक मानक प्राप्त करना देश का लक्ष्य है।
  • नागरिकों का बेहतर स्वास्थ्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।
  • भारत के प्रधानमंत्री ने सार्वभौमिक स्वास्थ्य के कवरेज के सभी घटकों को हासिल करने के उद्देश्य से नीतिगत पहलों को तेजी प्रदान की है ताकि सभी के लिये किफायती और समावेशी स्वास्थ्य सेवा प्रदान की जा सके।
  • लोगों को स्वस्थ खान-पान के प्रति संवेदी बनाने, कुपोषण की समस्या से निपटने, मोटापे की समस्या दूर करने तथा कुपोषण मुक्त भारत अभियान को तेज करने के लिये भारत सरकार द्वारा सितंबर महीने को ‘पोषण माह’ के रूप में मनाया जा रहा है।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में भारत के प्रयास

भारत महामारी के उस दौर से गुजर रहा है जिसमें संक्रामक रोग से गैर-संक्रामक बीमारियाँ हो रही हैं और मधुमेह, उच्च रक्तचाप और मोटापा जैसी खान-पान से संबंधित बीमारियाँ तेजी से बढ़ रही हैं। इन सभी बीमारियों को नियंत्रित करने के लिये भारत ने निम्नलिखित महत्त्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

  • ‘खाद्य प्रणाली दृष्किोण’ भारतीय खाद्य सुरक्षा तथा मानक प्राधिकरण ने नागरिकों के सुरक्षित और स्वस्थ खान-पान को सुनिश्चित करने के लिये ‘खाद्य प्रणाली दृष्किोण’ को अपनाया है।
  1. इस दृष्टिकोण में नियामक और क्षमता सृजन उपायों को उपभोक्ता सशक्तीकरण उपायों से जोड़ा गया है।
  • ‘सही खाओ भारत’ इसके अंतर्गत जन आंदोलन के माध्यम से नागरिकों को संवेदी बनाया जा रहा है। इसकी टैग लाइन हैदृ सही भोजन बेहतर जीवन।
  1. सही खान-पान से जीवन की गुणवत्ता बेहतर होती है। अतः स्वास्थ्य नीति का महत्त्वपूर्ण स्तंभ रोकथाम एवं संवर्द्धनकारी स्वास्थ्य सेवा ही भारत का संकल्प है।
  2. ‘ईट राइट’ अभियान के साथ उच्च रक्तचाप, मोटापा तथा मधुमेह जैसी जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों से लड़ने में मदद मिलेगी।
  • ईट राइट, स्टे फिट तभी इंडिया सुपर फिटः ‘ईट राइट, स्टे फिट तभी इंडिया सुपर फिट’ ¼Eat Right, Stay Fit, Tabhi India Super Fit½ अभियान विराट कोहली ने लॉन्च किया है।
  • फिट इंडिया आंदोलनः प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर फिट इंडिया आंदोलन लॉन्च किया।
  1. इसका उद्देश्य लोगों को शारीरिक गतिविधि और खेल-कूद को अपने दैनिक जीवन में शामिल करने के लिये प्रोत्साहित करना है।
  • आयुष्मान भारत योजनाः यह लोगों के स्वास्थ्य के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता के अंतर्गत सार्वभौमिक स्वास्थ्य के लिये लाई गई एक योजना है।
  • मिशन इंद्रधनुषः इसके तहत अभियान में तेजी लाकर 90 प्रतिशत लोगों के लिये टीकाकरण कवरेज योजना बनाई गई है।

 

प्रीलिम्स के लिए तथ्य :

भारतीय विश्व संस्कृति संस्थान:

  • अगस्त 2019 में भारतीय विश्व संस्कृति संस्थान IIWC ने अपने 75वें वर्ष में कदम रखा। भारतीय विश्व संस्कृति संस्थान की स्थापना बी.पी. वाडिया ने 11 अगस्त, 1945 को बंगलूरु शहर के बसवनगुड़ी उपनगर में हुई थी।
  • IIWC के पुस्तकालय में विभिन्न विषयों पर लगभग5 लाख पुस्तकें उपलब्ध हैं।
  • इस संस्थान की पत्रिका ’’बुलेटिन’’ निरूशुल्क वितरित की जाती है, जिसमें लेख और महत्त्वपूर्ण घटनाओं सूची होती है।
  • इसके पत्रिका अनुभाग में दुर्लभ संग्रह उपस्थित हैं।
  • पढ़ने के कमरे में 400 पत्रिकायें और 30 समाचार पत्र हैं।
  • यहाँ औसतन 150 कार्यक्रम प्रतिवर्ष आयोजित किये जाते है।

 

EIR-21 एक्सप्रेस:

  • 73 वें स्वतंत्रता दिवस समारोह के उपलक्ष्य में, EIR-21 द्वारा संचालित एक हेरिटेज स्पेशल सर्विस चेन्नई के एगमोर से कोडम्बक्कम तक संचालित की गई। EIR-21 विश्व की सबसे पुरानी स्टीम लोकोमोटिव (Steam Locomotive½ है।
  • लोको को EIR-21 एक्सप्रेस’ नाम इसके निर्माणकर्ताओं इंग्लैंड के किटसन, थॉम्पसन और हेविट्सन ने दिया था, जिन्होंने इसे वर्ष 1855 में बनाया था।
  • EIR-21एक्सप्रेस’ फेयरी क्वीन ¼ Fairy Queen½ की तरह ही दिखती है तथा फेयरी क्वीन की तरह ही 164 साल पुरानी है
  • ‘द फेयरी क्वीन’ ¼The Fairy Queen½ वर्ष 1855 में बनी दुनिया की सबसे पुरानी कार्यरत स्टीम लोकोमोटिव है।
  • वर्ष 1996 में द फेयरी क्वीन का परिचालन पूरी तरह से बंद करके वर्ष 1997 में फेयरी क्वीन ट्रेन टूर बना दिया गया तथा वर्ष 1998 में इसका वाणिज्यिक परिचालन फिर से शुरू किया गया।
  • इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड द्वारा दुनिया के सबसे पुराने कामकाजी लोकोमोटिव के रूप में भी प्रमाणित किया जा चुका है।
  • EIR-21 के कई हिस्से विकृत हो गये थे कुछ लापता हो गए थे जबकि कुछ हिस्से टूट गए थे, इस प्रकार यह उपयोग करने योग्य नहीं था। हालाँकि लोको वर्क्स, पेरम्बूर ने वर्ष 2010 में लोको को फिर से तैयार किया और तब से भारतीय रेलवे के विरासत मूल्य को प्रदर्शित करने के लिये इसे चलाया जाता है।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow