Online Portal Download Mobile App हिंदी ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

स्वास्थ्य आपातकाल

समाचार में क्यों?

तकाल पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण द्वारा भारत की राजधानी दिल्ली में सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा की गई है क्योंकि 1 नवंबर, 2019 को प्रदूषण का स्तर अत्यंत गंभीर (Severe Plus) श्रेणी का पाया गया।

  • केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (Central Pollution Control Board- CPCB) द्वारा उपलब्ध कराए गए आधिकारिक आँकड़ों के अनुसार, 1 नवंबर, 2019 को दिल्ली का समग्र AQI (Air quality Index) स्कोर 504 के स्तर पर पहुँच गया था।
  • इसके अतिरिक्त 1 नवंबर, 2019 को दिल्ली का औसत AQI स्कोर (24 घंटों में 32 निगरानी स्टेशनों से प्राप्त आँकड़ों के औसत के अनुसार) 484 अत्यंत गंभीर श्रेणी का पाया गया।
  • नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद, ग्रेटर नोएडा और गुरुग्राम में क्रमशः 499, 496, 479, 496 और 469 AQI स्कोर था जो अत्यंत गंभीर श्रेणी को प्रदर्शित करता है।

प्रभाव:

  • इस प्रकार के प्रदूषण से आँख और साँस संबंधित समस्याएँ बढ़ जाती हैं।
  • लोग गले में जलन, सूखी त्वचा और त्वचा की एलर्जी जैसे प्रदूषण से जुड़े लक्षणों का सामना कर रहे हैं।
  • इसके कारण दमा रोगियों, बुजुर्गों और बच्चों को ज़्यादा परेशानी हो रही है।

कारण:

  • दीपावली के पटाखे।
  • दिल्ली में प्रदूषण के लिये का सबसे अधिक ज़िम्मेदार पंजाब और हरियाणा में जलाई जा रही पराली को माना जा रहा है।
  • प्रतिकूल मौसम परिस्थितियाँ।
  • वायु गुणवत्ता निगरानी उपकरण ‘सफर’ के अनुसार, दिल्ली में वायु गुणवत्ता में गिरावट का यह सर्वाधिक निम्न स्तर है।

आगे की राह:

लोगों को इस अवधि के दौरान घर से बाहर केवल ज़रूरी होने पर ही निकलने का परामर्श जारी किया गया है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड :

(Central Pollution Control Board- CPCB)

  • केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का गठन एक सांविधिक संगठन के रूप में जल (प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम, 1974 के अंतर्गत सितंबर 1974 को किया गया।
  • इसके पश्चात् केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को वायु (प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम, 1981 के अंतर्गत शक्तियाँ व कार्य सौंपे गए।
  • यह पर्यावरण (सुरक्षा) अधिनियम, 1986 के प्रावधानों के अंतर्गत पर्यावरण एवं वन मंत्रालय को तकनीकी सेवाएँ भी उपलब्ध कराता है।
  • केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के प्रमुख कार्यों को जल (प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम, 1974 तथा वायु (प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम, 1981 के तहत वर्णित किया गया है।

प्रीलिम्स के लिए तथ्य

NAVIC –Navigation with Indian Constellation:

  • एंट्रिक्स ने हाल ही में उद्योगों की पहचान के लिए दो अलग-अलग फ़्लोटिंग फ़्लोट किए हैं जो समर्पित NavIC- आधारित हार्डवेयर और सिस्टम विकसित कर सकते हैं।

NAVIC क्या है?

  • भारतीय तारामंडल के साथ नेविगेशन (NavIC) एक स्वतंत्र क्षेत्रीय नेविगेशन उपग्रह प्रणाली है जिसे भारतीय क्षेत्र में स्थिति की जानकारी प्रदान करने के लिए और भारतीय मुख्य भूमि के आसपास 1500 किमी पर डिज़ाइन किया गया है।

डस्टलिक -2019 :

  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके उज्बेकिस्तान के समकक्ष ने पहली बार भारत-उज्बेकिस्तान संयुक्त अभ्यास – डस्टलिक -2019 के कर्टन रेज़र की अध्यक्षता की।

के बारे में:

  • आतंकवाद-रोधी पर केंद्रित संयुक्त सैन्य अभ्यास 4 नवंबर से शुरू होगा और ताशकंद के पास चिरचिउक प्रशिक्षण क्षेत्र में 13 नवंबर तक चलेगा।
  • अभ्यास दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच सर्वोत्तम प्रथाओं और अनुभवों को साझा करने में सक्षम होगा और अधिक से अधिक परिचालन प्रभाव पैदा करेगा।
  • रक्षा मंत्री शनिवार से तीन दिवसीय यात्रा पर उज्बेकिस्तान में हैं। यह भारतीय रक्षा मंत्री द्वारा लगभग 15 वर्षों में उज्बेकिस्तान की पहली यात्रा है।
  • बैठक के दौरान, भारत और उज्बेकिस्तान ने दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच सैन्य चिकित्सा के क्षेत्र में सहयोग पर एक समझौता ज्ञापन का समापन किया।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow