Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग

G.S. Paper-II

संदर्भ:

श्री विजय सांपला को ‘राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग’ (National Commission for SCs- NCSC) का नए अध्यक्ष नियुक्त किया गया है।

‘राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग’ के बारे में:

  1. भारतीय समाज में अनुसूचित जातियों को शोषण के विरुद्ध सुरक्षा प्रदान करने और उनके सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक और सांस्कृतिक विकास को बढ़ावा देने हेतु, भारत सरकार द्वारा ‘राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग’ की स्थापना की गई।
  2. भारतीय संविधान के अनुच्छेद 338 में संशोधनकरके तथा 89 वें संविधान संशोधन अर्थात संविधान संशोधन अधिनियम, 2003 के माध्यम से संविधान में एक नया अनुच्छेद 338A सम्मिलित करके राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग (NCST) की स्थापना की गई।
  3. इस संशोधन के माध्यम से, पूर्ववर्ती ‘राष्ट्रीय अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति आयोग’को, फरवरी, 2004 से दो भिन्न आयोगों में परिवर्तित कर दिया गया- राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग (NCSC) और राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग (NCST)
  4. NCSC में एक अध्यक्ष, एक उपाध्यक्ष तथा तीन अन्य सदस्य होते हैं। इनकी नियुक्ति राष्ट्रपति के हस्ताक्षर और मुहर सहित आदेश से की जाती है।

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन

(National Urban Digital Mission – NUDM)

  1. आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया है।
  2. शहरों और नगरों को समग्र सहायता प्रदान करने के लिए पीपुल्स, प्रोसेस और प्लेटफॉर्म जैसे तीन स्तंभों पर काम करते हुए शहरी भारत के लिए साझा डिजिटल बुनियादी ढांचा विकसित करेगा।
  3. यह मिशन वर्ष 2022 तक 2022 शहरों और 2024 तक भारत के सभी शहरों और नगरों में शहरी शासन और सेवा वितरण के लिए नागरिक केन्द्रित और इकोसिस्टम द्वारा संचालित दृष्टिकोण को साकार करने का काम करेगा।
  4. इस मिशन के तहत, फरवरी 2019 में आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा शुरू किए गए नेशनल अर्बन इनोवेशन स्टैक (एनयूआईएस) की रणनीति और दृष्टिकोण आधारित प्रौद्योगिकी डिजाइन सिद्धांतों का अनुसरण किया है।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow