Online Portal Download Mobile App हिंदी ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोज़गार गारंटी अधिनियम)

समाचार में क्यों?    

केंद्र द्वारा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (MGNREGA) के लिये समय पर बकाया धनराशि का आवंटन न होने के कारण यह चर्चा में है।

मुख्य बिंदु:

  • वर्ष 2019-20 के लिये प्रस्तावित बजट में MGNREGA के लिये 60,000 करोड़ रुपए की धनराशि आवंटित की गई थी। इस राशि का 96% से अधिक हिस्सा अब तक खर्च किया जा चुका है।
  • योजना के लिये आवंटित की जाने वाली 2500 हज़ार करोड़ रुपए की राशि प्राप्त करना शेष है जबकि नई राशि जारी होने में अभी दो महीने का समय और लगेगा।
  • योजना के वित्तीय विवरण के अनुसार, 26 जनवरी, 2020 तक पंद्रह ऐसे राज्य चिह्नित किये गए हैं जिनकी बकाया राशि का भुगतान केंद्र सरकार द्वारा किया जाना है।
  • इस सूची में राजस्थान का सर्वाधिक बकाया ‘निगेटिव नेट बैलेंस (Negative Net Balance) 620 करोड़ रुपए है इसके बाद उत्तर प्रदेश का 323 करोड़ रुपए बकाया है।
  • राजस्थान में श्रमिकों की मज़दूरी हेतु मनरेगा राशि का भुगतान अक्तूबर 2019 से नहीं किया गया है। इसकी सूचना राजस्थान सरकार द्वारा प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र द्वारा दी गई तथा 1,950 करोड़ रुपए बकाया राशि की मांग की गयी है। जिसमें मज़दूरी के भुगतान के लिये 848 करोड़ रुपए और सामग्रियों के लिये 1102 करोड़ रुपए की राशि का भुगतान राजस्थान सरकार को करना है।
  • इसके बाद केंद्र सरकार द्वारा राजस्थान राज्य सरकार के लिये 200 करोड़ रुपए की बकाया राशि का ही भुगतान किया गया है। अभी भी राज्य सरकार को 600-700 करोड़ रुपए की और आवश्यकता होगी।
  • राजस्थान सरकार 15 दिनों के भीतर 99.57% श्रमिकों हेतु तथा 8 दिनों के भीतर 90.31% श्रमिकों की मज़दूरी के भुगतान के लिये फंड ट्रांसफर ऑर्डर (Fund Transfer Orders) करने में सक्षम है।

Fact For prelims

Bar Headed Geese :

  • इस बार बार हेडेड गीज़ (Bar Headed Geese) ने कर्नाटक में कुंडवाड़ा झील (Kundavada Lake) की बजाय कोंडाज्जी झील (Kondajji Lake) को अपना निवास स्थान बनाया।
  • बार हेडेड गीज़ मध्य चीन और मंगोलिया में पाया जाता है और ये सर्दियों के दौरान भारतीय उप-महाद्वीप में प्रवास करते हैं तथा मौसम के अंत तक रहते हैं।

कुंडवाड़ा झील (Kundavada Lake)

  • कर्नाटक की यह झील 260 एकड़ में फैली हुई है।
  • यह कर्नाटक के दावणगेरे शहर को पीने का पानी उपलब्ध कराती है।

कोंडाज्जी झील (Kondajji Lake) :

  • यह झील कर्नाटक के दावणगेरे शहर से लगभग 14 किलोमीटर दूर स्थित है। यह झील पर्यटकों के प्रमुख आकर्षणों में से एक है क्योंकि यह विभिन्न पक्षी प्रजातियों का निवास स्थान है।
  • यहाँ दक्षिण भारत का प्रमुख स्काउट्स और गाइड्स प्रशिक्षण केंद्र भी है।

Padma Award 2020 :

  • भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने वर्ष 2020 के 141 पद्म पुरस्कारों को प्रदान करने की स्वीकृति दी। देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक पद्म पुरस्कार तीन श्रेणियों (पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री) में प्रदान किये जाते हैं।
  • ये पुरस्कार विभिन्न विषयों/गतिविधियों के क्षेत्रों अर्थात कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामलों, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल, सिविल सेवा आदि में दिए जाते हैं।
  • पद्म विभूषण (Padma Vibhushan): यह पुरस्कार असाधारण और विशिष्ट सेवा के लिये प्रदान किया जाता है।
  • पद्म भूषण (Padma Bhushan): यह पुरस्कार उच्च स्तर की विशिष्ट सेवा के लिये प्रदान किया जाता है।
  • पद्म श्री (Padma Shri): यह पुरस्कार किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिये प्रदान किया जाता है।
  • इन पुरस्कारों की घोषणा प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है।
  • ये पुरस्कार प्रत्येक वर्ष मार्च/अप्रैल के आसपास को भारत के राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में प्रदान किये जाते हैं।
  • इस बार 7 पद्म विभूषण, 16 पद्म भूषण और 118 पद्मश्री प्रदान किये जायेंगे।
  • पद्म पुरस्कार सूची में 34 महिलाएँ हैं और इस सूची में 18 व्यक्ति विदेशी/एनआरआई/पीआईओ / ओसीआई श्रेणी के हैं और 12 व्यक्ति मरणोपरांत पुरस्कार पाने वालों की श्रेणी में हैं।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow