Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

बर्ड फ्लू

G.S. Paper-III

संदर्भ:

  • हाल ही में, दो जिलों में बर्ड फ्लू के मामले सामने आने बाद केरल सरकार ‘सतर्क’ हो गई है।
  • राज्य में, बतखों मेंइन्फ्लुएंजा के उपप्रकार H5N8 (H5N8 subtype of Influenza A) विषाणु का संक्रमण पाया गया है।

एवियन इन्फ्लूएंजा (बर्ड फ्लू) के बारे में:

  1. एवियन इन्फ्लूएंजा (Avian influenza-AI) पक्षियों, मनुष्यों और अन्य जानवरों को संक्रमित करने में सक्षम एक एक वायरल संक्रमण है। हालांकि इस वायरस के अधिकांश प्रकार केवल पक्षियों को संक्रमित करने तक सीमित हैं।
  2. यह एक अत्यधिक संक्रामक बीमारी है जो खाद्य पदार्थो के रूप में उपयोग होने वाले पक्षियों (मुर्गियों, टर्की, बटेर, गिनी फाउल, आदि) सहित पालतू पक्षियों और जंगली पक्षियों की कई प्रजातियों को प्रभावित करती है।
  3. कभी-कभी यह वायरस मानव सहित अन्य स्तनधारियों को भी संक्रमित कर सकता है।
  4. ‘इन्फ्लूएंजा ए’ वायरस को दो प्रकार के प्रोटीन हेमाग्लगुटिनिन (Hemagglutinin- HA) और न्यूरोमिनिडेस (Neuraminidase- NA) के आधार पर उप-प्रकारों में वर्गीकृत किया जाता है।

इन्फ्लुएंजा ए (H5N8) विषाणु:

पेरिस स्थित वर्ल्ड आर्गेनाईजेशन फॉर एनिमल हेल्थ के अनुसार, H5N8 एवियन इन्फ्लूएंजा पक्षियों का एक रोग है।

  1. यहटाइप “ए” इन्फ्लूएंजा वायरस (Type “A” influenza viruses) के कारण फैलता है।
  2. इस वायरस से पालतू पक्षी, जंगली प्रवासी पक्षी, जल-मुर्गाबी, घरेलू मुर्गियों की कई प्रजातियां जैसे मुर्गियां, टर्की, बटेर, गिनी फाउल, बतख आदि प्रभावित हो सकते हैं।

इस वायरस का प्रसरण:

अब तक मनुष्यों में H5N8 विषाणु संक्रमण के मामले नहीं पाए गए है। आम जनता के लिए इसके संक्रमण का जोखिम काफी कम है।

  1. अभी तक, मुर्गी के मांस या अंडे के सेवन से मनुष्यों में वायरस पहुचने संबंधी कोई प्रमाण नहीं मिले हैं।
  2. किंतु नियंत्रण और निवारण कार्यों के दौरान बीमार / मृत पक्षियों और दूषित पदार्थो के प्रबंधन करते समय आवश्यक सावधानी बरतने की आवश्यकता है।
  3. उचित ढंग से पके हुए पोल्ट्री उत्पादों को खाने के लिए सुरक्षित माना जाता है।

नियंत्रण उपाय:

  1. जानवरों में वायरस संक्रमण का पता चलने पर, सामान्यतः संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए इनको मारना (Culling) शुरू किया जाता है।
  2. जानवरों की हत्या करने के अलावा, मारे गए सभी जानवरों तथा अन्य संबंधित उत्पादों का सुरक्षित निपटान भी महत्वपूर्ण होता है।
  3. अधिकारियों द्वारा संक्रमित परिसरों को सख्ती से परिशोधन कराया जाना और दूषित वाहनों औरकर्मियों को संगरोध (Quarantine) किया जाना आवश्यक है।

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

नई ‘स्कूल बैग नीति, 2020′

राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (NCERT) द्वारा जारी किया गया।

  1. नई ‘स्कूल बैग नीति’ के अनुसार, कक्षा I और II के छात्रों के लिए6 से 2.2 किलोग्राम, कक्षा III, IV और V के लिए 1.7 से 2.5 किलोग्राम, कक्षा VI और VII के लिए 2 से 3 किलोग्राम होना चाहिए।
  2. कक्षा VIII के लिए5 से 4 किग्रा, IX और X के लिए 2.5 से 4.5 किग्रा और कक्षा XI और XII के लिए 3.5 से 5 किग्रा होना चाहिए।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow