Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

पोषण अभियान

G.S. Paper-II

संदर्भ:

हाल ही में नीति आयोग द्वारा पोषण अभियान पर एक समीक्षा रिपोर्ट जारी की गयी है।

रिपोर्ट में दिए गए सुझाव:

  1. केंद्र द्वारा वर्ष 2022 तक नाटेपन, दुर्बलता और रक्त-अल्पता को कम करने हेतु निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जाना चाहिए।
  2. एकपोषण प्लस रणनीति के लिए, अभियान में चार प्रमुख स्तम्भों को सशक्त बनाने के साथ ही NHM/ICDS वितरण तंत्र संबंधी की चुनौतियों को दूर करने के अलावा अन्य सामाजिक निर्धारकों पर भी नए सिरे से ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।
  3. स्तनपान के साथ-साथ पूरक आहार प्रदान किये जाने पर भी जोर दिया जाए। इससे भारत में नाटेपन के कुल मामलों में 60% से अधिक कमी की जा सकती है।

पोषण अभियान के बारे में:

  1. इस कार्यक्रम कोबच्चोंगर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए पोषण परिणामों में सुधार करने हेतु शुरू किया गया है।
  2. इस कार्यक्रम को वर्ष 2022 तक पूरे किये जाने वाले विशिष्ट लक्ष्यों सहित वर्ष 2018 में आरंभ किया गया था।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य:

  1. बच्चों में नाटेपन और दुर्बलता में प्रतिवर्ष 2% (वर्ष 2022 तक कुल 6%) की कमी करना।
  2. बच्चों, किशोरियों और गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं में प्रति वर्ष 3% (वर्ष 2022 तक कुल 9%) रक्त-अल्पता को कम करना।

इस मिशन का लक्ष्य वर्ष 2022 तक 0-6 साल आयु वर्ग के बच्चों में नाटेपन को 38.4% से 25% तक कम करना है।

पृष्ठभूमि:

पांच साल के कम आयु के एक तिहाई से अधिक बच्चे नाटेपन और दुर्बलता, तथा एक से चार आयु वर्ग के 40% बच्चे रक्त-अल्पता से ग्रसित हैं। वर्ष 2016 में जारी किये गए राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 4 के अनुसार, 50% से अधिक गर्भवती और अन्य महिलाओं में रक्त-अल्पता पायी गयी।

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

सहकार प्रज्ञा

  1. प्राथमिक सहकारी समितियों को आत्मनिर्भर भारत में बड़ी भूमिका निभाने में सहयोग करनेके उद्देश्य से, सरकार द्वारा देश में ऐसी संस्थाओं से जुड़े किसानों के लिए एक अभिनव क्षमता निर्माण पहल ‘सहकार प्रज्ञा’ शुरू की गयी है।
  2. इसके तहत, देश के ग्रामीण क्षेत्रों में प्राथमिक सहकारी समितियों में मंत्रालय के तहत स्वायत्त निकायराष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (NCDC) द्वारा सहकार प्रज्ञा के तहत प्रशिक्षित किया जाएगा।
  3. सहकार प्रज्ञा के तहत, ज्ञान, कौशल और संगठनात्मक क्षमताओं को स्थानांतरित करने के लिएपैंतालीस प्रशिक्षण मॉड्यूल तैयार किए गए हैं।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow