Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

त्सो कार आर्द्रभूमि क्षेत्र

G.S. Paper-III

संदर्भ:

भारत ने लद्दाख के त्सो कार (Tso Kar) आर्द्रभूमि क्षेत्र को अपने 42वें रामसर स्थल के रूप में शामिल किया है।

‘त्सो कार’ के बारे में:

त्सो कार घाटी, लद्दाख के चांगथांग क्षेत्र में स्थित एक अत्‍यधिक ऊंचाई वाला आर्द्रभूमि क्षेत्र है। यह दो प्रमुख जल-निकायों, चांगथांग क्षेत्र के दक्षिण में मीठे पानी की झील स्टारत्सपुक त्सो (Startsapuk Tso) तथा उत्तर में खारे पानी की झील त्सो कार (Tso Kar) से मिलकर बना है।

  1. अत्यधिक खारे पानी के वाष्पीकरण के कारण इसके किनारों परसफेद नमक के उत्फुल्लन (efflorescence) के कारण इसे त्सो कार कहा जाता है, जिसका अर्थ है सफेद झील।
  2. बर्ड लाइफ इंटरनेशनल के अनुसार त्सो कार घाटी एक महत्वपूर्ण पक्षी क्षेत्र (IBA) और यह मध्य एशियाई उड़ान मार्ग में पड़ने वाला एक महत्वपूर्ण स्थल है।

इस क्षेत्र में पाई जाने वाली महत्वपूर्ण पक्षी प्रजातियाँ:

काले गर्दन वाली सारस पक्षी (Grus nigricollis), ग्रेट क्रेस्टेड ग्रीबे (Podicepscristatus), बार-हेडेड गीज यानी कलहंस (Anserindicus), रूडी शेल डक यानी बतख (Tadornaferruginea), ब्राउन-हेडेड गल (Larusbrunnicephalus), लेसर सैंड-प्लोवर (Charadriusmongolus) और अन्य।

‘रामसर अभिसमय’ के बारे में:

‘रामसर अभिसमय’ (Ramsar Convention) आर्द्रभूमियों के संरक्षण और विवेकपूर्वक उपयोग हेतु एक अंतर्राष्ट्रीय संधि है।

  1. इस अभिसमय पर 2 फरवरी 1971 को कैस्पियन सागर के तट पर स्थति ईरान के शहर रामसर में हस्ताक्षर किए गए थे, इसलिए इसे ‘रामसर अभिसमय’ (Ramsar Convention) कहा जाता है।
  2. आधिकारिक तौर पर इसे, ‘अंतर्राष्ट्रीय महत्व की आर्द्र्भूमियों, विशेषकर जल-पक्षी वास-स्थल पर अभिसमय’ (Convention on Wetlands of International Importance especially as Waterfowl Habitat) कहा जाता है।

‘मॉन्ट्रेक्स रिकॉर्ड’ (Montreux Record)-

‘रामसर अभिसमय’ के तहत ‘मॉन्ट्रेक्स रिकॉर्ड’ (Montreux Record) अंतरराष्ट्रीय महत्व की आर्द्र्भूमियों की सूची में आर्द्र्भूमि स्थलों का एक रजिस्टर है। इसमें मानवीय हस्तक्षेप व प्रदूषण के कारण पारिस्थितिकी रूप से संकटापन्न आर्द्र्भूमियों को शामिल किया जाता है ।

इसे रामसर सूची के भाग के रूप में बरकरार रखा जाता है।

  1. मॉन्ट्रेक्स रिकॉर्ड की स्थापनाकॉन्फ्रेंस ऑफ कॉन्ट्रैक्टिंग पार्टीज़ (Conference of the Contracting Parties), 1990 की सिफारशों के तहत की गयी थी।
  2. मॉन्ट्रेक्स रिकॉर्ड में किसी भी स्थल को केवल संबंधित अनुबंधित पक्षकारों (Contracting Parties) की सहमति से जोड़ा और हटाया जा सकता है।
  3. वर्तमान में, मॉन्ट्रेक्स रिकॉर्ड में दो भारतीय स्थल लोकटक झील, मणिपुर और केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान, राजस्थान हैं।
  4. एक बार चिल्का झील (ओडिशा) को इस सूची में स्थान दिया गया था, परन्तु आगे चलकर इसे वहाँ से हटा दिया गया।

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

महाराष्ट्र द्वारा अंतर्राष्ट्रीय खेल विश्वविद्यालय की स्थापना

हाल ही में, मंत्रिमंडल द्वारा राज्य में एक अंतर्राष्ट्रीय खेल विश्वविद्यालय की स्थापना हेतु एक मसौदा विधेयक को मंजूरी प्रदान की गयी है।

  1. यह विश्वविद्यालय पुणे में स्थापित किया जाएगा।
  2. अंतर्राष्ट्रीय खेल विश्वविद्यालय में शारीरिक और खेल शिक्षा, खेल विज्ञान और खेल चिकित्सा, खेल प्रौद्योगिकी, खेल प्रशासन, खेल प्रबंधन, खेल मीडिया और संचार, और खेल कोचिंग और प्रशिक्षण सहित विभिन्न पाठ्यक्रम उपलब्ध होंगे।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow