Online Portal Download Mobile App हिंदी ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

एम हरियाली

12th October 2019

समाचार में क्यों? 

  • 11 अक्तूबर, 2019 को नई दिल्‍ली में मोबाइल एप, ‘एम हरियाली को लॉन्च किया गया।

संबंधित मंत्रालय:     आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय (Ministry of Housing and Urban Affairs)

उद्देश्य:

  • सरकारी कालोनियों के पर्यावरण को संरक्षित करना।
  • लोगों को पौधे लगाने और इस तरह के अन्‍य हरित उपाय करने के लिये प्रेरित करना।

विशेषता :

  • इस एप का उपयोग आम जनता, नोडल अधिकारियों और आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा किया जा सकता है।
  • लोग अब अपने द्वारा किये गए किसी भी प्रकार के पौधारोपण की जानकारी/फोटो अपलोड कर सकते हैं जो एप से जुड़ी होगी और यह वेबसाइट www.epgc.gov.in पर दिखाई देगी।
  • एप स्‍वत: ही पौधों की जियो-टैगिंग (Geo-Tagging) करता है।
  • यह एप नोडल अधिकारियों को समय-समय पर वृक्षारोपण की निगरानी करने में भी सक्षम करेगा।

जियो-टैगिंग (Geo-Tagging) :

  • जियोटैगिंग मेटा डेटा के रूप में भौगोलिक जानकारी को विभिन्न प्रकार से मीडिया से जोड़ने की प्रक्रिया है।
  • इस मेटा डेटा में आमतौर पर अक्षांश और देशांतर जैसे निर्देशांक होते हैं, लेकिन इसमें दिक्कोण, ऊँचाई, दूरी और स्थान का नाम भी शामिल हो सकता है।
  • जियो-टैगिंग का उपयोग आमतौर पर तस्वीरों के लिये किया जाता है और इससे लोगों को बहुत सी विशिष्ट जानकारी (जैसे- तस्वीर कहाँ ली गई थी या किसी सर्विस में लॉग ऑन करने वाले मित्र का सटीक स्थान) प्राप्त करने में मदद मिल सकती है।

 

प्रीलिम्स के लिए तथ्य

मृत्युदंड विरोधी दिवस :

  • प्रतिवर्ष 10 अक्तूबर को दुनियाभर में मृत्युदंड विरोधी दिवस (World Day Against the Death Penalty) मनाया जाता है।
  • संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार कार्यालय (Office of the High Commissioner for Human Rights-OHCHR) ने सभी देशों का आहवान किया है कि वे उस वैश्विक संधि को मंज़ूरी देकर लागू करें जिसमें मृत्युदंड को खत्म करने का आह्वान किया गया है।
  • लगभग 170 देशों ने अपने यहाँ मृत्युदंड को या तो औपचारिक रूप से समाप्त कर दिया है या न्यायिक फैसलों में मौत की सज़ा सुनाना बंद कर दिया है।

चीन टॉप पर :

  • चीन मौत की सज़ा देने वाले देशों में पहले नंबर पर है, लेकिन इसका सही आँकड़ा सर्वविदित नहीं है क्योंकि इसे चीन में सुरक्षा कारणों से छिपाया जाता है।
  • वर्ष 2016 में दुनियाभर में जितने भी मृत्युदंड दिये गए उनमें से 87% के लिये सिर्फ़ पाँच देश ज़िम्मेदार थे- चीन (आँकड़े ज्ञात नहीं) ईरान, सऊदी अरब, इराक और पाकिस्तान।
  • इनके अलावा चीन, भारत, अमेरिका और इंडोनेशिया भी बड़ी संख्या में मृत्युदंड देने वाले देशों की सूची में आते हैं।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow