Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

एक देश-एक चुनाव

G.S. Paper-II

संदर्भ:

हाल ही में, प्रधानमंत्री ने एक बार फिर देश में वन नेशन वन इलेक्शन की जरूरत पर जोर देते हुए कहा है, कि देश में हर कुछ महीनों में चुनाव होते हैं और इससे विकास कार्य बाधित होता है।

  1. प्रधानमंत्री द्वारा यह सुझाव हाल ही में आयोजित 80 वेंअखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन में दिया गया था।
  2. इसके साथ ही उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि लोकसभा, विधानसभा और अन्य चुनावों के लिए केवल एक मतदाता सूची का उपयोग किया जाना चाहिए।

‘एक देश-एक चुनाव’ क्या है?

एक देश-एक चुनाव / ‘वन नेशन वन इलेक्शन’ (One Nation-One Election) का तात्पर्य लोकसभा, राज्य विधानसभाओं, पंचायतों और शहरी स्थानीय निकायों के लिए प्रति पांच वर्षो में एक बार और एक साथ चुनाव कराने से है।

बहुधा होने वाले चुनावों होने से उत्पन्न चुनौतियाँ-

  1. भारी व्यय।
  2. चुनाव के समय मेंआदर्श आचार संहिता लागू होने के परिणामस्वरूप नीतियों में रूकावट
  3. आवश्यक सेवाओंके वितरण पर प्रभाव।
  4. चुनाव के दौरान तैनात किये जाने वालेजनबल पर अतिरिक्त भार
  5. राजनीतिक दलोंविशेषकर छोटे दलों पर दबाव में वृद्धि, क्योंकि दिन प्रतिदिन महंगे होते जा रहे हैं।

एक साथ चुनाव कराए जाने के लाभ:

  1. प्रशासन एवंअनुरूपता: सत्तारूढ़ दल, हमेशा चुनाव अभियान मोड में रहने के बजाय कानून और प्रशासन पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे।
  2. धन के व्यय और प्रशासन मेंकिफ़ायत
  3. नीतियों और कार्यक्रमों मेंनिरंतरता
  4. प्रशासन क्षमता: सरकारों द्वारा लोकलुभावन उपायों में कमी।
  5. सभी चुनाव एक ही बार होने से मतदाताओं परकाले धन के प्रभाव में कमी

क्षेत्रीय दलों पर प्रभाव:

लोकसभा और राज्य विधान सभा चुनाव एक साथ होने पर, मतदाताओं में केंद्र व राज्य, दोनों में एक ही पार्टी को सत्ता में लाने के लिए मतदान करने की प्रवृत्ति हमेशा होती है

एक साथ चुनाव कराए जाने संबंधी प्रावधान लागू किये जाने पर, संविधान और कानूनों में किए जाने वाले परिवर्तन:

  1. अनुच्छेद 83 संसद के सदनों के कार्यकाल से संबंधित है, इसमें संशोधन किए जाने की आवश्यकता होगी।
  2. अनुच्छेद 85(राष्ट्रपति द्वारा लोकसभा को भंग करने संबंधी अनुच्छेद)
  3. अनुच्छेद 172(राज्य विधानसभाओं के कार्यकाल से संबंधित अनुच्छेद)
  4. अनुच्छेद 174(राज्य विधानसभाओं के विघटन से संबंधित अनुच्छेद)
  5. अनुच्छेद 356(राष्ट्रपति शासन से संबंधित अनुच्छेद)

संसद और विधानसभाओं, दोनों के कार्यकालों की स्थिरता हेतु जनप्रतिनिधित्व अधिनियम (Representation of People Act), 1951 में संशोधन किये जाने की आवश्यकता होगी।

इसमें निम्नलिखित महत्वपूर्ण तत्व सम्मिलित किए जाने चाहिए:

  1. एक साथ चुनाव कराने संबंधी आवश्यक प्रक्रियाओं को सुविधाजनक बनाने हेतुभारत के निर्वाचन आयोग (ECI) की शक्तियों और कार्यों का पुनर्गठन।
  2. जनप्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा 2 में एक साथ चुनावकी परिभाषा जोड़ी जा सकती है

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

बुकर पुरस्कार 2020

  • स्कॉटिश लेखक डगलस स्टुअर्ट को उनके पहले और प्रसिद्ध उपन्यासशग्गी बैन (Shuggie Bain) के लिए वर्ष 2020 के बुकर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। शग्गी बैन’ की कहानी इनके गृहनगर ग्लासगो की पृष्ठभूमि पर आधारित है।
  • बुकर पुरस्कार अंग्रेजी भाषा का अग्रणी साहित्यिक पुरस्कार है।
  • यह पुरस्कार, अंग्रेजी भाषा की अथवा अंग्रेजी में अनुवादित तथा यूनाइटेड किंगडम या आयरलैंड में प्रकाशित किसी एक पुस्तक के लिए प्रतिवर्ष प्रदान किया जाता है।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow