Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

आंध्र प्रदेश की तीन राजधानियों संबंधी विवाद

G.S. Paper-II

संदर्भ:

हाल ही में, तेलुगु देशम पार्टी (TDP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी को प्रदेश की तीनों राजधानियों के विचार पर जनमत संग्रह कराने की चुनौती दी है।

तीन राजधानियाँ:

31 जुलाई को राज्य सरकार द्वारा आंध्र प्रदेश विकेंद्रीकरण एवं सभी क्षेत्रों का समावेशी विकास अधिनियम, 2020 तथा आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण (निरसन) अधिनियम, 2020 को अधिसूचित किए गए थे।

यह अधिनियम आंध्रप्रदेश राज्य के लिए तीन राजधानियों का मार्ग प्रशस्त करते हैं।

  1. अमरावती विधायी राजधानी।
  2. विशाखापत्तनम कार्यकारी राजधानी।
  3. कुर्नूल न्यायिक राजधानी।

तीन राजधानियों की आवश्यकता:

  1. राज्य सरकार का कहना है कि वहराज्य के अन्य हिस्सों की उपेक्षा करते हुए एक विशाल राजधानी शहर बनाने के विरुद्ध है। प्रदेश की तीन राजधानियाँ होने से राज्य के विभिन्न क्षेत्रों का समान रूप से विकास सुनिश्चित होगा।
  2. आंध्र प्रदेश कीराजधानी के लिए उपयुक्त स्थान का सुझाव देने के लिए गठित सभी प्रमुख समितियों की सिफारिशों मेंविकेंद्रीकरणकेंद्रीय विषय रहा है। इन समितियों में जस्टिस बी एन श्रीकृष्ण समिति, के शिवरामकृष्णन समिति, तथा जी एन राव समिति आदि सम्मिलित हैं।

इस विचार को लागू करने में समस्या-

  1. समन्वय और क्रियान्वयन संबधी आशंका:अलग-अलग शहरों में स्थित विधायिका तथा कार्यपालिका का मध्य समन्वय स्थापित करना, कहने के लिए आसान परन्तु करने के लिए काफी मुश्किल साबित होगा, तथा, इसके अतिरिक्त सरकार द्वारा इस संदर्भ में किसी योजना का विवरण नहीं दिया गया है, इससे अधिकारी तथा आम नागरिक सभी, इसके कार्यान्वयन को लेकर आशंकित हैं।
  2. परिवहन लागत और समय:कार्यकारी राजधानी विशाखापत्तनम, न्यायिक राजधानी कुर्नूल से 700 किमी तथा विधायी राजधानी अमरावती से 400 किमी की दूरी पर स्थित है। अमरावती तथा कुर्नूल के मध्य 370 किमी की दूरी है। तीन राजधानियां होने से यात्रा में लगने वाला समय तथा लागत काफी महंगी साबित होगी।

एक से अधिक राजधानी वाले भारतीय राज्य –

  1. महाराष्ट्र:की दो राजधानियाँ हैं- मुंबई तथा नागपुर (राज्य विधानसभा का शीतकालीन सत्र)।
  2. हिमाचल प्रदेश:की शिमला और धर्मशाला (शीतकालीन) दो राजधानियाँ हैं।
  3. पूर्व राज्यजम्मू और कश्मीर की श्रीनगर तथा जम्मू (शीतकालीन) दो राजधानियाँ थी।

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

एशिया-प्रशांत प्रसारण संघ (ABU)

  1. यह एक गैर-लाभकारी, गैर-सरकारी, गैर-राजनीतिक, प्रसारण संगठनों का एक पेशेवर संघ है, जो एशिया-प्रशांत क्षेत्र में प्रसारण-विकास में सहायता करता है।
  2. इसकी स्थापना 1964 में की गयी थी और इसका सचिवालय कुआलालंपुर, मलेशिया में है। इसके चार महाद्वीपों के 76 देशों में 272 से अधिक सदस्य है और यह विश्व में सबसे बड़ा प्रसारण संघ है।
  3. ABU वर्ल्ड ब्रॉडकास्टर्स यूनियन का सदस्य भी है।

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow