Online Portal Download Mobile App English ACE +91 9415011892 / 9415011893

डेली करेंट अफेयर्स 2020

विषय: प्रीलिम्स और मेन्स के लिए

अमेरिकी शांति योजना

G.S. Paper-II

संदर्भ:

अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी द्वारा ‘अमेरिकी शांति प्रस्ताव’ के प्रत्युत्तर में एक शांति योजना तैयार की गयी है, जिसके तहत उन्होंने आगामी छह माह के भीतर नए राष्ट्रपति का चुनाव करने का प्रस्ताव दिया है। ज्ञातव्य है कि, राष्ट्रपति अशरफ गनी ने कुछ दिन पूर्व अमेरिका द्वारा पेश किये गए एक शांति प्रस्ताव को नकार दिया था।

राष्ट्रपति अशरफ गनी, अगले महीने तुर्की में होने वाली एक सभा में अपने प्रस्ताव का खुलासा करेंगे। यह ‘अमेरिकी प्रस्ताव’ को अस्वीकार करने का संकेत भी होगा, जिसमे उनकी निर्वाचित सरकार को अंतरिम प्रशासन द्वारा प्रतिस्थापित करने का प्रस्ताव किया गया था।

अमेरिकी- तालिबान शांति समझौता:

  1. अमेरिकी सरकार और तालिबान के बीच 29 फरवरी, 2020 को एक शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे।
  2. इस समझौते में, अमेरिका तथा ‘उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन’ (NATO) के सैनिकों को अफगानिस्तान से वापस बुलाने की मांग की गई थी।

अफगानिस्तान में शांति का भारत के लिए महत्व:

भारत द्वारा अफगानिस्तान में स्थायी शांति और स्थिरता स्थापित करने हेतु नए सिरे से प्रयास करने तथा बाहरी रूप से प्रायोजित आतंकवाद और हिंसा को समाप्त करने का आह्वान किया गया है।

  1. आर्थिक रूप से, यह भारत के लिए, तेल और खनिज संपन्न मध्य एशियाई गणराज्यों का प्रवेश द्वार है।
  2. पिछले पांच वर्षों में अफगानिस्तान, भारतीय विदेशी सहायता प्राप्त करने वाला दूसरा सबसे बड़ा देश बन गया है।

समझौते के कुछ महत्वपूर्ण सिद्धांतों में:

समझौते पर हस्ताक्षर होने के 14 महीने के भीतर नाटो या गठबंधन सेना की संख्या में कमी करने तथा अमेरिकी सैनिकों की वापसी को शामिल किया गया है।

तालिबान द्वारा की गई आतंकवाद-रोधी प्रमुख प्रतिबद्धता:

तालिबान अपने किसी भी सदस्य, अल-क़ायदा सहित किसी अन्य व्यक्ति या समूह को, अफ़गानिस्तान की धरती का उपयोग, संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगियों की सुरक्षा को खतरे में डालने के लिए नहीं करने देगा।

प्री के लिए महत्वपूर्ण तथ्य

गाँधी शांति पुरस्कार

  1. हाल ही में बांग्लादेश के पहले राष्ट्रपति शेख मुजीबुर्हमान और ओमान के पूर्व सुल्तान काबूस बिन सैद अल सैयद को क्रमश: वर्ष 2020 और वर्ष 2019 के लिए गाँधी शांति पुरस्कार(Gandhi Peace Prize) देने की घोषणा की गई है.
  2. गाँधी शांति पुरस्कार भारत सरकार द्वारा स्थापित एक वार्षिक पुरस्कार है जिसे 1995 से प्रदान किया जा रहा है.
  3. इस पुरस्कार की स्थापना महात्मा गाँधी की 125वीं जयंती पर की गई थी.
  4. पुरस्कार सभी व्यक्तियों के लिए खुला है चाहे उनकी राष्ट्रीयता, नस्ल, भाषा, जाति, पंथ या लिंग कोई भी हो.

 

नवीनतम समाचार

get in touch with the best IAS Coaching in Lucknow